जैन संगीतियां

जैन धर्म में दो सभाएं हुई थी जिनका विवरण इस प्रकार है।

प्रथम जैन सभा-

  • समय – प्रथम जैन संगीति का आयोजन 300 ई.में हुआ।
  • शासनकाल – यह सभा चंद्रगुप्त मौर्य के काल में हुई थी।
  • स्थान – पाटलिपुत्र में प्रथम जैन संगीति हुई।
  • अध्यक्ष – यह सभा स्थूलभद्र की अध्यक्षता में हुई।
  • कार्य– इसमें जैन धर्म के प्रधान भाग 12 अंगों का संपादन हुआ। प्रथम जैन सभा में जैन धर्म दिगंबर एवं श्वेतांबर दो भागों में बँट गया।

द्वितीय जैन सभा –

  • समय– द्वितीय जैन संगीति का आयोजन 512 ई.में हुआ।
  • स्थान-वल्लभी में द्वितीय जैन संगीति हुई थी।
  • अध्यक्ष– देवर्षि क्षमाश्रमण की अध्यक्षता में हुई।
  • कार्य-धर्म ग्रंथों को अंतिम रूप से संकलित कर लिपिबद्ध किया गया।

Reference : http://www.indiaolddays.com

3 Comments on “जैन संगीतियां”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *