मुगलकालीन मुद्रा(सिक्के) व्यवस्था

rare coins of india

अन्य संबंधित महत्त्वपूर्ण तथ्य-

अकबर ने दिल्ली में एक शाही – टकसाल का निर्माण कराया और अब्दुस्समद को उसका प्रधान नियुक्त किया।

अबुल फजल  के अनुसार – मुगल काल में सोने के सिक्के बनाने की 4टकसालें,चाँदी के सिक्कों के लिए 14 टकसालें तथा ताँबे के सिक्कों के लिए 42 टकसालें थी।

  • मुगल काल में टकसाल के अधिकारी को दरोगा कहा जाता था।
  • जहाँगीर के कुछ सिक्कों पर उसे हाथ में शराब का प्याला लिए हुए दिखाया गया है।
  • अकबर के सिक्कों पर राम-सीता की आकृति तथा सूर्य चंद्रमा की महिमा में वर्णित कुछ पद्य भी मिलते हैं।
  • अकबर ने असीरगढ विजय की स्मृति में अपने सिक्कों पर बाज की आकृति अंकित करायी।
  • औरंगजेब ने सिक्कों पर कलमा खुदवाना बंद करा दिया उसके कुछ सिक्कों पर मीर-अब्दुल बाकी शाहबई द्वारा रचित पद्य अंकित करवाया।

मुहर-

यह एक सोने का सिक्का था जिसे अकबर ने अपने शासन काल के आरंभ में चलाया था।इसका मूल्य 9रु. (आइने-अकबरी के अनुसार) था। मुगल का सबसे अधिक प्रचलित सिक्का था।

शंसब-

अकबर द्वारा चलाया गया सबसे बङा सोने का सिक्का जो 101 तोले का होता था।जो बङे लेन-देन में प्रयुक्त होता था।

इलाही-

अकबर द्वारा चलाया गया सोने का गोलाकार सिक्का था। इसका मूल्य 10 रु. के बराबर था।

रुपया-

शुद्ध चाँदी का वर्गाकार या चौकोर सिक्का इसे (शेरशाह द्वारा प्रवर्तित) इसका वजन 175ग्रेन होता था।

जलाली-

चाँदी का वर्गाकार या चौकोर सिक्का। इसे अकबर ने चलाया।

दाम-

अकबर द्वारा चलाया गया ताँबे का सिक्का जो  रुपये के 40वें भाग के बराबर होता था।

जीतल-

ताँबे का सबसे छोटा सिक्का। यह दाम के 25वें भाग के बराबर होता था।इसे फुलूस या पैसा कहा जाता था।

निसार-

जहाँगीर द्वारा चलाया गया ताँबे का सिक्का जो रुपये के चौथाई मूल्य के बराबर होता था।

आना-

दाम और रुपये के बीच आना नामक सिक्के का प्रचलन  करवाया।

मुगलकालीन माप की इकाई-

सिकंदरी गज-

  • यह 39अंगुल या 32इंच (अंक) की होती थी।

इलाही गज-

  • यह 41अंगुल या 33इंच की होती थी।

कोवाङ-

  • दक्षिणी भारत में सूती-ऊनी वस्रों के नाम की इकाई।

बहार-

  • अरब व्यापारियों ने समुद्री तटों पर तोल की इस इकाई को लागू किया था।

कैण्डी-

  • गोवा में प्रचलित तोल की इकाई।

reference :http://www.indiaolddays.com

2 Comments on “मुगलकालीन मुद्रा(सिक्के) व्यवस्था”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *