पाबना विद्रोह

पाबना विद्रोह(1873-76)का इतिहास

1870 से 1880 के बीच का दशक बंगाल के लिए किसान आंदोलनों का दशक था। पावना क्षेत्र जो पटसन की कृषि हेतु प्रसिद्ध है, के 50 प्रतिशत से अधिक किसानों …

Read More
नील विद्रोह

नील विद्रोह कहाँ हुआ था

नील विद्रोह(1859-60) नील विद्रोह(neel-rebellion) किसानों द्वारा किया गया एक आन्दोलन था जो बंगाल के किसानों द्वारा सन् 1859में किया गया था।यह विद्रोह 1857 की क्रांति के बाद किया गया सबसे पहला संगठित विद्रोह …

Read More
पहला समाचार पत्र

भारतीय समाचार पत्रों का इतिहास (भारत का पहला समाचार पत्र)

आधुनिक भारतीय समाचार पत्रों के इतिहास की शुरूआत भारत में यूरोपियन लोगों के आगमन से मानी जाती है। पत्रकारिता का इतिहास, प्रौद्योगिकी और व्यापार के विकास के साथ आरम्भ हुआ। भारत में प्रिंटिंग प्रेस …

Read More
सैडलर आयोग

सैडलर आयोग -कलकत्ता विश्वविद्यालय आयोग

1917 ई. में सरकार ने डॉ. माइकल सैडलर के नेतृत्व में कलकत्ता विश्वविद्यालय( University of Calcutta ) की समस्याओं के अध्ययन हेतु एक आयोग नियुक्त किया । सैडलर आयोग ने …

Read More
रैले कमीशन

रैले कमीशन 1902 क्या था

वायसराय लार्ड कर्जन ने शिक्षा से संबंधित मैकाले की योजना की आलोचना की। कर्जन द्वारा शिक्षा में लाने वाले परिवर्तनों का उद्देश्य राजनीतिक अधिक शैक्षणिक कम था। 1901में कर्जन ने …

Read More
हंटर शिक्षा कमीशन

हंटर शिक्षा कमीशन(1882-83)किससे संबंधित है

लार्ड रिपन  (1880-1884 ई.) ने 1882 में डब्ल्यू.हंटर( विलियम विलसन हन्टर) की अध्यक्षता में एक आयोग गठित किया , जिसका उद्देश चार्ल्स वुड के घोषणा पत्र द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में …

Read More
वुड डिस्पैच

1854 का चार्ल्स वुड डिस्पैच क्या था

शिक्षा के प्रसार का दूसरा चरण लार्ड डलहौजी के समय में शुरु हुआ। 1853 के चार्टर एक्ट में भारत में शिक्षा के विकास की जांच के लिए एक समिति के …

Read More
ब्रिटिश कालीन शिक्षा पद्धति

आधुनिक भारत में ब्रिटिश कालीन शिक्षा पद्धति

ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने अपने शासन के प्रारंभिक दिनों में भारत में शिक्षा के प्रसार के लिए प्रचार नहीं किया। इन दिनों कुछ उदार अंग्रेजों, ईसाई मिशनरियों ओर उत्साही …

Read More
थियोसॉफिकल सोसायटी एवं एनी बेसेन्ट

थियोसॉफिकल सोसायटी एवं एनी बेसेन्ट का इतिहास

थियोसॉफिकल सोसाइटी (Theosophical Society) एक अंतर्राष्ट्रीय आध्यात्मिक संस्था थी। थियोसॉफी सभी धर्मों में निहित आधारभूत ज्ञान है लेकिन यह प्रकट तभी होता है जब वे धर्म अपने-अपने अन्धविश्वासों से मुक्त हों।वास्तव …

Read More
जनजातीय (आदिवासी) विद्रोह

जनजातीय (आदिवासी) विद्रोह क्या था

भारत के अनेक हिस्सों में रहने वाले आदिवासियों ने 19वी. शता. में संगठित होकर ब्रिटिश सरकार के विरुद्ध कई छापामार लङाइयाँ लङी।आमतौर पर आदिवासी शेष समाज से अपने को अलग-थलग …

Read More